जम्‍मू कश्‍मीर को चीन का हिस्सा दिखाने पर Twitter ने दिया जवाब

जम्‍मू कश्‍मीर को चीन का हिस्सा दिखाने पर Twitter ने दिया जवाब

ट्विटर रविवार को उस समय निशाने पर आ गया जब उसने जम्मू-कश्मीर को चीन का हिस्सा बता दिया। लद्दाख की राजधानी लेह स्थित वॉर मेमोरियल पर आयोजित कार्यक्रम को पत्रकार नितिन गोखले की ओर से लाइव किए जाने के बाद ट्विटर ने यह गलती की। जिसके बाद लोग भड़क गए अब ट्विटर ने अपनी गलती स्वीकार करते हुए कहा कि, यह दिक्‍कत दूर कर दी है। यह भी पढ़ें: Twitter ने जम्मू-कश्मीर को बताया चीन का हिस्सा, यूजर्स भड़के

दरअसल, राष्ट्रीय सुरक्षा विश्लेषक नितिन गोखले ने ट्विटर पर लाइव ब्रॉडकास्ट के वीडियो में जो लोकेशन टैग दिखाया गया वह था, ‘जम्मू-कश्मीर, पीपल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना।’ गोखले और अन्य ट्विटर यूजर्स ने तुरंत इस गलती को ट्विटर और ट्विटर इंडिया के आधिकारिक हैंडल्स पर शिकायत की। यह भी पढ़ें: चीन की खुलेआम धमकी, कहा- ‘ सिक्किम से लेकर पूरे पूर्वोत्तर भारत में घोल देगा अलगाववाद का जहर’

ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन के फेलो कंचन गुप्ता ने भी इस मुद्दे पर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ”इसका मतलब ट्विटर ने भूगोल को बदलने और जम्मू कश्मीर को चीन का हिस्सा घोषित किया है। क्या यह भारतीय कानूनों का उल्लंघन नहीं है? भारत के नागरिकों को इससे कम के लिए दंडित किया गया है, लेकिन अमेरिका की बड़ी टेक कंपनी कानून से ऊपर है? यह भी पढ़ें: पीरियड्स के दौरान 4 दिन का मिले सवेतन अवकाश, सुप्रीमकोर्ट में दायर हुई याचिका

वहीं इस मामले पर ट्विटर ने कहा है कि, हमें इस तकनीकी खामी की जानकारी रविवार को मिली। हम इसकी संवेदनशीलता को समझते हैं और उनका सम्मान करते हैं। जियोटैग (लोकेशन) की खामी को हमारी टीम ने तुरंत दूर कर दिया है, हालांकि इस गलती के लिए ट्विटर ने माफी नहीं मांगी है। यह भी पढ़ें: ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का हुआ सफलतापूर्वक परीक्षण, 400 किलोमीटर से ज्यादा दूरी तक का टारगेट कर सकता है ध्वस्त


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply