CAA के विरोध प्रदर्शन पर की गई टिप्पणी अली फज़ल को पड़ी भारी, मिर्ज़ापुर 2 को बहिष्कार करने की उठी मांग

मिर्ज़ापुर‘ अली फजल की बेहतरीन सीरीज में से एक रही है। मिर्ज़ापुर वेब सीरीज स्टार अली फजल ने पिछले साल 2019 में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध प्रदर्शन के दौरान अपनी सीरीज का एक डायलॉग बोलते हुए विरोध प्रदर्शन पर टिप्पणी की थी। CAA पर कहीं गई अली फजल की टिप्पणी विरोध प्रदर्शन करने वालों को काफ़ी हद तक चुभ गई, जिसे लोग अभी तक नहीं भूल पा रहे हैं। इस साल 23 अक्टूबर में अमेज़न प्राइम पर मिर्ज़ापुर का दूसरा सीजन रिलीज़ होने वाला है। सोशल मीडिया पर लोगों के द्वारा सीरीज को बहिष्कार करने की बात चल रही है।

अली फजल ने अपनी सीरीज मिर्ज़ापुर का एक डायलॉग तंज कसते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि, “शुरू मजबूरी में किए थे, अब मज़ा आ रहा है।”


अली फजल ने एक और ट्वीट करते हुए लिखा था कि, “याद रखें अगला कदम ये साबित करना नहीं की ये शांतिपूर्ण आंदोलन था, बल्कि इसकी जांच करना और असली घुसपैठियों से पर्दा उठाना जो बाहर इस आंदोलन में घुसे और हिंसा की।”

अली फजल के इन ट्वीट्स के बाद उस वक़्त काफ़ी हंगामा हुआ था। हालांकि अली फजल ने बाद में उनके किए गए इन ट्वीट्स को डिलीट भी कर दिया था, पर अब उनके किए गए इन ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे है। जिसकी वजह से एक बार फिर हंगामा मच गया है। इन सबके चलते आने वाली सीरीज मिर्ज़ापुर सीज़न-2 के आगे बहुत से मुश्किलें खड़ी हो रही हैं। सोशल मीडिया पर हर जगह हैशटैग बॉयकॉट मिर्ज़ापुर का इस्तेमाल किया जा रहा है।

अली फजल के CAA पर टिप्पणी करने के बाद उनके कई फैंस भी इस सीरिज़ का विरोध करते दिखाई दे रहे हैं। ट्वीट करते हुए एक यूज़र लिखते हैं कि, “इतने वक़्त से इंतज़ार था इस सीरीज का पहली सीरिज़ भी धमाल बवाल थी, पर अली फजल के कहे गए शब्द अभी भी कानों में गूँज रहे हैं।” बॉयकॉट हैशटैग का इस्तेमाल करते हुए एक यूज़र लिखते हैं कि, “बेहतरीन सीरीज में से एक रही मिर्ज़ापुर लेकिन देश से बढ़कर कुछ नहीं।” एक यूज़र ने मजाकिया अंदाज़ में लिखा कि, “जो लोग कल तक हैशटैग मिर्ज़ापुर लिख रहे थे। आज वह लोग हैशटैग बॉयकॉट मिर्ज़ापुर लिख रहे हैं।”


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

 

 

Leave a Reply