अनहोनी को टालने के लिए मुंबई में 7 घंटे बारिश में सड़क पर खड़ी रही महिला

'The Unsung Hero': Mumbai Woman Stands in Rain For 5 Hours to Warn Commuters of Open Manhole | Watch
अनहोनी को टालने के लिए मुंबई में 7 घंटे बारिश में सड़क पर खड़ी रही महिला (Image Credit: India.com)

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रही है जिसमें एक महिला पानी से डूबी हुई सड़क पर खड़े हो कर आने जाने वालों को खुले हुए मेनहोल से दूर से निकलने को कह रही है। यह महिला मुंबई की माटुंगा इलाके में तुलसी पाइप रोड पर फुटपाथ पर रहने वाली कांता मारुति कलान हैं, जिनकी उम्र 50 वर्ष है। वह अपनी दो बेटियों के साथ फुटपाथ पर बने एक टेंट में रहतीं हैं। जीवनयापन करने के लिये वह दादर मार्केट में फूल बेचती हैं।

दरअसल, मुंबई में पिछ्ले हफ्ते लगातार बारिश के कारण शहर के कई इलाकों में पानी भर गया था, जिससे लोगों को आवागमन में दिक्कत का सामना करना पड़ा। 3 अगस्त को बारिश का पानी भरने के कारण यही हाल माटुंगा में हुआ। बारिश का पानी तुलसी पाइप रोड को भरने लगा। अगली सुबह सड़क और फुटपाथ 3 फीट तक पानी में डूबे हुए थे। सड़क पर खड़ी बाइकें भी पानी में तैरने लगीं। इलाके में पानी भर जाने के कारण वहाँ के रहवासियों को परेशानी हो रही थी। फुटपाथ पर रहने वाले लोगों को सामान बह जाने का डर था।

इलाके में पानी की निकासी के लिये बीएमसी का कोई कर्मचारी नहीं आया। इस स्थिति में कलान ने स्वयं इस परेशानी का हल निकालने की सोची। उन्होंने मेनहोल के ढक्कन में कपड़ा बाँधकर एक राहगीर की मदद लेकर मेनहोल को खोला। इस काम को करने के बाद वह घर जाकर अपना सामान बचाने की बजाय सड़क पर खड़े रह कर वहाँ से निकलने वाले राहगीरों को मेनहोल के खुले होने की चेतावनी देती रहीं। पानी भरे होने के कारण खुला हुआ मेनहोल दिखाई नहीं दे रहा था। वह सुबह 6 बजे से  लेकर दोपहर 1 बजे तक मेनहोल के पास खड़े रह कर यातायात का निर्देशन करती रहीं ताकि कोई यात्री दुर्घटना का शिकार न हो।

इस काम को निस्स्वार्थ भाव से करने के कारण उन्हें एक बड़ी कीमत चुकानी पड़ी। दुर्घटनाओं को टालते-टालते फुटपाथ पर बने उनके टेंट से सब कुछ बह गया। उन्होंने जो 10,000 रुपए अपनी बेटियों की ऑनलाइन क्लास के लिये जमा किए थे, वह भी बह गए। इस नुकसान के साथ, पानी में देर तक खड़े रहने के कारण उन्हें बुखार भी आ गया था। अब उन्हें अपनी और बेटियों का जीवन पटरी पर लाने की चिन्ता है।

उनके इस काम की सराहना सोशल मीडिया पर की जा रही है। इलाके के रहवासी और पुलिसवाले भी उनके इस जज्बे की तारीफ कर रहें हैं। बता दें कि मुंबई मिरर की एक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले पाँच साल में मेनहोल में गिरने से 328 लोगों की मौत हुई है।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply