एनसीआरबी की रिपोर्ट- यूपी की जेलों में बंद हैं सबसे ज्यादा बीटैक, पोस्ट ग्रेजुएट कैदी

एनसीआरबी की रिपोर्ट- यूपी की जेलों में बंद हैं सबसे ज्यादा बीटैक, पोस्ट ग्रेजुएट कैदी


यूपी की जेलों से एक रोचक तथ्‍य निकलकर सामने आया है। दरअसल, उत्तर प्रदेश की जेलों में सबसे ज्यादा पढ़ाकू कैदी बंद हैं। इनमें से ज्यादातर इंजिनियरिंग और मास्टर्स की डिग्री रखने वाले लोग हैं।

एनसीआरबी ‘क्राइम इन इंडिया’ की 2019 के डाटा के अनुसार उत्तर प्रदेश की जेलों में 727 बीटेक और एमटेक कैदी बंद हैं। वहीं पोस्‍ट ग्रेजुएट कैदियों की संख्‍या 2010 है। ह भी पढ़ें: बतौर सत्ता प्रमुख के रूप में मोदी का 20वें साल में हुआ प्रवेश , जानिए उपलब्धियां

रिपोर्ट में बताया गया है कि, टेक्निकल की डिग्री रखने वाले 20 प्रतिशत कैदी सिर्फ यूपी में हैं। इसके बाद महाराष्ट्र का नंबर आता है। जहां 495 इंजिनियर्स जेल में बंद हैं।

कर्नाटक में टेक्निकल की डिग्री रखने वाले 362 कैदी जेल में बंद हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश पीजी डिग्रीधारी कैदियों के मामले में भी नंबर वन है। यह भी पढ़ें: नरोत्तम का राहुल पर तंज, बोले- ‘इतनी अच्छी क्वालिटी का नशा लाते कहां से हैं, मुझे नहीं समझ आता’

यूपी के जेल महानिदेशक आनंद कुमार के मुताबिक इन कैदियों में ज्‍यादातर दहेज, दहेज हत्‍या, और बलात्कार के आरोप हैं। इसके साथ ही कुछ ऐसे भी आरोपी हैं,जो किसी आर्थिक अपराध के मामले में बंद हैं।

कैदियों की मदद से हुई जेल टेक्नॉलजी अपग्रेड

डीजी आनंद कुमार ने बताया कि, “इन पढ़े-लिखे कैदियों के कौशल का इस्तेमाल जेल के भीतर अच्छी तरह से किया जा रहा है। टेक्निकल बैकग्राउंड के कैदियों की मदद से जेल की टेक्नॉलजी अपग्रेड की जा रही है।”

“कई प्रतिभाशाली इंजिनियर कैदियों ने जेल में ई-प्रिजन मॉड्यूल विकसित किया है। वहीं कईयों ने मिलकर जेल इन्वेंट्री सिस्टम के कम्प्यूटरीकरण में मदद की है। उन्होंने परिसर के भीतर जेल रेडियो की स्थापना में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इनमें से कई शिक्षक बन गए हैं और ई-साक्षरता कार्यक्रमों में शामिल हो गए हैं।” यह भी पढ़ें: भारतीय वायुसेना दिवस विशेष: मोदी ने जवानों को दी बधाई, कहा- जवानों का साहस है प्रेरित करने वाला


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *