मास्क, पीपीई किट जैसे बायोमेडिकल वेस्ट से ईंट बना रहा है ये शख़्स

मास्क, पीपीई किट जैसे बायोमेडिकल वेस्ट से ईंट बना रहा है ये शख़्स (साभार: The Better India)

प्लास्टिक दुनियाभर के लिए एक चुनौती बन गया है। इस समस्या से निजात पाना बहुत मुश्किल हो गया है। इन दिनों जब कोरोना का खतरा दुनिया में मंडरा रहा है, तब मास्क और पीपीई किट सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किए जा रहे हैं। अब इसका कचरा भी दुनिया के लिए नई चुनौती लेकर सामने आ रहा है। इससे निजात पाने का एक ही तरीका है- रीसाइक्लिंग।

बिनीश देसाई नामक शख़्स इसी मुसीबत को हल करने की कोशिश में लगे हुए हैं। BDream नामक कंपनी के संस्थापक बीनीश बायोमेडिकल वेस्ट से P-block 2.0 ईंट बनाने ने लगे हुए हैं। उनकी यह कंपनी इंडस्ट्रियल वेस्ट को सस्टेनेबल बिल्डिंग मटेरियल बनाने के लिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करती है। बिनीश की यह खोज भी इसी टेक्नोलॉजी का हिस्सा थी।

द बेटर इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, इससे पहले बिनिश बिनीश P-Block ईंट का आविष्कार कर चुके हैं। यह इंट पेपर मील से निकले वेस्ट से बनाई जाती हैं। बता दें कि बिनीश को रिसाइकिल मैन के नाम से भी जाना जाता है।

Central Pollution Control Board के मुताबिक, भारत में 1 दिन में 101 मेट्रिक टन का बायो मेडिकल वेस्ट निकल रहा है, जो कि सिर्फ और सिर्फ कोरोना से जुड़ा हुआ है। विनीश ने कहा, “लोग ज्यादातर सिंगल यूज़ मास के यूज कर रहे हैं। एक बार इस्तेमाल होने के बाद यह मास्टर कूड़े में शामिल हो जाते हैं। तो मैंने सोचा क्यों ना मैं इस बेस्ट से भी ईट बनाने का काम शुरू करूं?”

P-Block 2.0 ईंट बनाने में 52 प्रतिशत पीपीई मटेरियल, 45% गीले पेपर के स्लज और 3% गोंद का इस्तेमाल किया जा रहा है। इससे पहले बिनीश ने ग्लव्स, मास्क और पीपीई किट से अपने निजी लैब में प्रयोग किया था। जिसके बाद उन्होंने इसे फैक्ट्री में बनाना शुरू कर दिया है। इसके लिए उन्हें प्रोडक्ट्स टेस्ट करने के बाद लोकल लैब से अनुमति भी मिल चुकी है। ईंट की कीमत 2.8 रुपए है और यह पानी व आग से भी बचाव करने में सक्षम है।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply