गेस्ट हाउस रेड में पकड़ी गई लड़कियों पर कोर्ट ने कहा- सैक्स व्यापार जुर्म नहीं, लड़कियों को पेशा चुनने की है आजादी

यहां है सेक्स वर्कर बनने की प्रथा, लड़कियां पकड़ी गईं तो कोर्ट ने कहा- वेश्यावृत्ति कोई जुर्म नहीं, सबको...
गेस्ट हाउस रेड में पकड़ी गई लड़कियों पर कोर्ट ने कहा- सैक्स व्यापार जुर्म नहीं, लड़कियों को पेशा चुनने की है आजादी (Image Credit: india.com)

पुलिस ने महाराष्ट्र के एक गेस्ट हाउस में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। जिसकी सुनवाई में बॉम्बे हाईकोर्ट द्वारा कहा गया कि सेक्स व्यापार करना कोई जुर्म नहीं है।लड़कियों को पेशा चुनने की आज़ादी है।

यह है पूरा मामला

मुंबई में तीन लड़कियों को देह व्यापार के आरोप में पकड़ी गईं। हालांकि, पुलिस ने इन लड़कियों को अब सुधार गृह भेज दिया गया है। किन्तु मामला जब बॉम्बे हाईकोर्ट पहुंचा तो इस मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि, इम्मोरल ट्रैफिक प्रिवेंशन एक्ट के तहत वेश्यावृत्ति कोई जुर्म नहीं है। हर किसी औरत को अपनी मर्जी का काम चुनने की आज़ादी है।

कानून का मकसद महिलाओं को दंडित करना नहीं

कोर्ट का कहना है कि, महिलाओं को ज्यादा समय तक सुधार गृह में बंद नहीं रखा जा सकता है। कानून का मकसद देह व्यापार को खत्म करना है, ना कि महिलाओं को दंडित करना।‌ इसके साथ ही कोर्ट ने पकड़ी गई महिलाओं को कस्टडी में भेजे जाने से भी इनकार कर दिया है।

लड़कियों को मां-बाप को सौंपने से इन्कार

कोर्ट को यह भी कहा कि, मुंबई के मलाड से एक गेस्ट हाउस से पकड़ी लड़कियां जिस समुदाय से आती हैं, वहाँ देह व्यापार करने-कराने की प्रथा सालों से चली आईं है। ऐसे में कोर्ट ने लड़कियों को उनके माँ-बाप को भी सौंपने से इनकार कर दिया।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply