मध्यप्रदेश में 16वें बच्चे को जन्म देने के बाद मां-शिशु की हुई मौत, अधिकारी ने दिए जांच के आदेश

दमोह में महिला ने 16वें बच्चे को दिया जन्म, मां और शिशु दोनों की हुई मौत, होगी जांच
मध्यप्रदेश में 16वें बच्चे को जन्म देने के बाद मां शिशु की हुई मौत, अधिकारी ने दिए जांच के आदेश (Image Credit: India.com)

यूं तो मां से बड़ा कोई योद्धा नहीं होता, लेकिन क्या हो जब मां का ही परिस्थितियों के आगे साहस टूट जाए! ऐसे ही एक मामला मध्य प्रदेश के दमोह जिले से सामने आया है। बटियागढ़ थाना क्षेत्र में पाडाझिर गांव की एक महिला की 16वें प्रसव के बाद मौत हो गई। इससे पहले महिला 15 बच्ची को जन्म दे चुकी थी, लेकिन उनमें सिर्फ 4 बेटियां और 4 बेटे ही जीवित हैं। बाकी 7 बच्चों की मौत हो चुकी है। बता दें कि पाडाझिर गांव की दमोह जिला मुख्यालय से दूरी मात्र 50 किलोमीटर है।

जानकारी के अनुसार, महिला के परिजन शनिवार रात प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। प्रसव के दौरान हालात बिगड़ने पर उसे हटा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भर्ती के लिए निकले, लेकिन रास्ते में ही मां और बच्चे की मौत हो गई। 

दमोह जिले की मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. संगीता त्रिवेदी ने कहा कि शासन द्वारा परिवार नियोजन की इतनी योजना चलाने के बाद भी महिला के परिवार की इस तरह की लापरवाही सामने आना चिंता का विषय है। जल्द ही मामले की जांच की जाएगी, और जो भी दोषी पाया जाएगा उस पर तत्काल कार्यवाई की जाएगी।

बता दें कि हर साल करोड़ों रूपए खर्च कर केंद्र सरकार हम 2, हमारे 2 जैसी योजनाओं के जरिए जागरूकता फैलाने का प्रयास कर रही है कि ज्यादा बच्चों को जन्म ना दिया जाए। इससे मां और बच्चे दोनों के स्वास्थ्य को खतरा होता है। इसके बावजूद इस तरह की लापरवाही स्थानीय प्रशासन के स्वास्थ्य संबंधित प्रयासों पर सवाल खड़ी करती है।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply