सोने की परत चढ़ा महात्मा गांधी का चश्मा ढाई लाख पौंड में ब्रिटेन में हुआ नीलाम

दो करोड़ 55 लाख रूपये में बिका महात्मा गांधी का चश्मा, ब्रिटेन में हुई नीलामी
सोने की परत चढ़ा महात्मा गांधी का चश्मा ढाई लाख पौंड में ब्रिटेन में हुआ नीलाम (साभार: NDTV India)

शुक्रवार को इंग्लैंड के ब्रिस्टल में महात्मा गांधी द्वारा पहना गया चश्मा £260,000 में नीलाम हुआ। भारतीय रुपयों में इसकी कीमत 2 करोड़ 55 लाख रुपए है। दक्षिण अफ्रीका में रहने के दौरान महात्मा गांधी द्वारा पहने गए सोने की परत चढ़ा हुआ गोल आकार के इस चश्मे की ऑनलाइन नीलामी हुई। दिलचस्प बात यह है कि चश्मे के मालिक ने इस चश्मे की बिना कीमत जाने एक लिफाफे के अंदर डाल कर ब्रिस्टल के नीलामकर्ता की पास छोड़ दिया था।

यह कीमती चश्मा संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के किसी बेनाम शख़्स ने खरीदा है। नीलामकर्ता एंडी स्टोवे ने कहा कि, “शुरुआत में चश्मे की नीलामी के लिए आरक्षित मूल्य £15,000 रखा गया था। जिसके बाद भारत सहित कई बड़े देश के नागरिकों ने एक चश्मे को खरीदने की रुचि दिखाई थी।

एंडी स्टोवे ने कहा कि, “नतीजे अभूतपूर्व रहे! यह चश्मा पिछले 50 वर्षों से एक दर्ज में पड़ा हुआ था। विक्रेता ने सचमुच मुझसे कहा था कि अगर यह चीज बिकने लायक ना लगे तो इसे फेक देना। अब इससे जो राशि प्राप्त हुई है, वह सचमुच ही जीवन बदल देगी।”

उन्होंने कहा कि, “इस चश्मे ने ना सिर्फ कीर्तिमान रचा बल्कि यह ऐतिहासिक रूप से भी महत्वपूर्ण है। मुझे लगता है कि नीलामी की रकम देखकर वेक्रेता के आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा होगा। यह अद्भुत नीलामी थी। जिन्होंने बोली लगाई उन सभी का धन्यवाद।”

बताया जा रहा है कि, चश्मे के नए मालिक मूल रूप से अमेरिका के रहने वाले हैं। फिलाहल वह इंग्लैंड के साउथ ग्लूसेस्टरशायर के मंगोट्सफील्ड में अपनी बेटी के साथ रहते हैं। वह और उनकी बेटी दोनों मिलकर चश्मे की नीलामी की रकम का भुगतान करेंगे। विक्रेता के पास यह चश्मा काफी पहले से था। उनके पिता को किसी रिश्तेदार की तरफ से यह चश्मा तोहफा स्वरूप मिला था, जब वह 1910 से 1930 के दौरान दक्षिण अफ्रीका में ब्रिटिश पेट्रोलियम में काम किया करते थे। महात्मा गांधी ने स्वतंत्रता संग्राम शुरू करने के लिए भारत लौटने से पहले उन्होंने कई साल दक्षिण अफ्रीका में बिताए थे।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply