Cut, Copy, और Paste का अविष्कार करने वाले लैरी टेस्लर अब नहीं रहे

मुख्य बातें

टेस्लर ही थे जिन्होंने कट, कॉपी और पेस्ट कमांड का अविष्कार किया।

उन्होंने फ़ाइंड और रिप्लेस जैसी अन्य कई कमांड्स बनाई थीं।

74 की उम्र में निधन हो गया है।


जब से कम्प्यूटर का अविष्कार हुआ है तब से उसके मशीनरी फंक्शन के कारण लोगों को उसका बहुत फायदा हुआ है। कम्प्युटर में दिन पर दिन कई बदलाव हुए हैं जिसकी वजह से कम्प्यूटर और बेहतर हुआ। कम्प्यूटर के कुछ ऐसे फंक्शन जिसने उस पर काम करना बहुत आसान बना दिया।

ऐसे ही कम्प्युटर का कमांड है कट, काॅपी और पेस्ट जो कम्प्युटर पर काम करने के लिए बहुत जरूरी है। इन तीनों कमांड का अविष्कार कंप्यूटर साइंटिस्ट लैरी टेस्लर 1983 में किया था। जिनका 74 की उम्र निधन हो गया है। उन्हें इन कमांड का जनक भी कहा जाता है।

कंप्यूटर में यूज़र इंटरफ़ेस के विकास के शुरुआती चरण में जिन लोगों ने अभूतपूर्व योगदान दिया, टेस्लर उनमें से एक थे। टेस्लर ने 1960 के दशक से सिलिकॉन वैली में काम करना शुरू किया था। शुरुआती वक़्त था और चीजे़ं बहुत नईं थीं, इसलिए कुछ कठिनाई भी थी। ये टेस्लर ही थे जिन्होंने कट, कॉपी और पेस्ट कमांड का अविष्कार किया और कंप्यूटर को आम लोगों के लिए भी सुगम बना दिया।

Larry Tesler, who invented cut, copy, and paste, is no more
Image credit: Communal News

इसके अलावा उन्होंने फ़ाइंड और रिप्लेस जैसी अन्य कई कमांड्स बनाई थीं, जिनसे टेक्स्ट लिखने से लेकर सॉफ़्टवेयर डिवेलप करने जैसे कई काम आसान हो गए।

यूज़र इंटरफ़ेस बनाने के एक्सपर्ट

लैरी टेस्लर का जन्म न्यूयॉर्क के ब्रॉन्क्स में साल 1945 में हुआ था। उनकी पढ़ाई कैलिफ़ोर्निया के स्टैन्फ़र्ड यूनिवर्सिटी में हुई। ग्रेजुएशन की पढ़ाई करने के बाद उन्होंने यूज़र इंटरफ़ेज़ डिज़ाइन में विशेषज्ञता हासिल की। इनका पूरा मक़सद यही था कि कंप्यूटर को किस तरह लोगों के लिए आसान और सुविधाजनक बनाया जा सके। लैरी ने अपने करियर की शुरुआत ज़ेरॉक्स पैलो ऑल्टो रिसर्च सेंटर से की।

इसके बाद स्टीव जॉब्स ने उन्हें एप्पल में आने के लिए कहा, जहां उन्होंने 17 साल काम किया। टेस्लर ने कई समय तक अमरीकी कंपनी ज़ेरॉक्स में काम किया था। जो उनके लिए टर्निग पाइंट भी साबित हुआ।

ज़ेरॉक्स ने उन्हें ट्वीट करके श्रद्धांजलि दी है। ट्वीट में लिखा है, “cut, copy, paste, find और replace (ctrl+x, ctrl+c, ctrl+v) और ऐसे ही बहुत से कमांड बनाने वाले ज़ेरॉक्स के पूर्व रिसर्चर लैरी टेस्लर। जिस शख़्स ने आपके रोज़मर्रा के काम को आसान कर दिया, उस शख़्स को धन्यवाद।”

टेस्लर ने कंप्यूटर के क्षेत्र में बहुत कुछ काम किया है लेकिन उनका सबसे महत्वूर्ण और वो काम जिसने उन्हें पहचान भी दिलाई वो- CUT…COPY..PASTE कमांड ही है। साल 1983 में एप्पल के सॉफ्टवेयर में लिसा कंप्यूटर पर इस कमांड को शामिल किया गया था और मूल मैकिन्तोश में भी उसी साल जारी किया गया था।


यह भी पढ़े:

Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply