पबजी समेत 118 मोबाइल एप्लिकेशन पर सरकार ने लगाया प्रतिबंध, देखें प्रतिबंधित 118 एप्लिकेशन की पूरी लिस्ट

Govt bans PUBG Mobile: Here is the List of 118 Chinese Apps banned by IT  Ministry today - See Latest
पबजी समेत 118 मोबाइल एप्लिकेशन पर सरकार ने लगाया प्रतिबंध, देखें प्रतिबंधित 118 एप्लिकेशन की पूरी लिस्ट (Image Credit: Seelatest.com)

भारत सरकार और चीन के बीच लगातार बढ़ रहे तनाव के बाद भारत ने चीन के खिलाफ एक और डिजिटल स्ट्राइक की है। सूचना और प्रोद्योगिकी मंत्रालय ने आज पबजी समेत 118 मोबाइल एप्लिकेशन पर प्रतिबंध लगा दिया है। इससे पहले भी 29 जून को जून अंत में सरकार ने टिक टाॅक समेत 47 एप्लिकेशन पर प्रतिबंध लगाया था। जिसमें यूसी ब्राउजर, जेंडर, शेयरइट, वी चैट, वीईबो शामिल थे। जुलाई अंत में 59 चीनी एप्लिकेशन प्रतिबंधित किए थे और अब पबजी समेत 118 एप्लिकेशन को प्रतिबंधित किया जाना केन्द्र सरकार की तरफ से उठाया गया एक अहम कदम है।

गौरतलब है कि चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी पिछले कई महीनों से एलएसी पर अड़ी हुई है। वह भारतीय सीमा में लद्दाख से घुसपैठ की कोशिश कर रही है। ऐसे में दोनों से तनाव बढ़ता जा रहा है। तनाव की स्थिति में बढ़ोतरी तब हुई थी, जब जून के मध्य में दोनों देशों के सैनिकों के बीच गलवान घाटी में हिंसक झड़प हो गई थी। इस झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। वहीं कई चीनी सैनिक भी मारे गए थे। वहीं भारतीय सैनिकों की मौत की ख़बर के बाद से ही भारत में कई दक्षिणपंथी समूह और सोशल मीडिया यूज़र चीन में बनी चीज़ों के बहिष्कार की मांग कर रहे थे।

यहाँ सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने प्रतिबंधित की गईं ऐप्स को देश की सुरक्षा, संप्रभुता, एकता के लिए नुकसानदेह बताया है।
आईटी मंत्रालय ने कहा, ‘सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार ने सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69-ए के तहत इस फैसले को लागू किया है। ये सभी 118 मोबाइल ऐप्स विभिन्न प्रकार के खतरे उत्पन्न कर रही थीं, जिसके चलते इन्हें ब्लॉक किया गया है।’ मंत्रालय ने आगे कहा उपलब्ध जानकारी के मद्देनजर ये ऐप्स ऐसी गतिविधियों में लगे हुए हैं, जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, सुरक्षा के लिए नुकसानदायक है।

मंत्रालय ने आगे कहा कि ‘सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय को विभिन्न स्रोतों से कई शिकायतें प्राप्त हुई हैं, जिनमें चोरी के लिए एंड्रॉइड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप के दुरुपयोग और यूजर्स के डेटा का गलत इस्तेमाल आदि शामिल है।’

वहीं आईटी मंत्रालय ने कहा कि भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र, गृह मंत्रालय ने भी इन ऐप्स को ब्लॉक करने के लिए एक विस्तृत सिफारिश भेजी है। भारत की संप्रभुता के साथ-साथ हमारे नागरिकों की गोपनीयता को नुकसान पहुंचाने वाले ऐप्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का फैसला लिया गया है।’


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *