IIT-IIM से पढ़ने वाले आईएएस अधिकारी एस गोपालकृष्णन को प्रधानमंत्री कार्यालय में अतिरिक्त सचिव के रूप में किया गया नियुक्त

देश में कोरोना संकट के दौरान तमिलनाडु के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी एस गोपालकृष्णन को प्रधानमंत्री कार्यालय में अतिरिक्त सचिव के तौर पर नियुक्त किया गया हैं। इसकी पुष्टि शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली कैबिनेट ने की है। गोपालकृष्णन 1991 बैच के आईएएस अधिकारी है। गोपालकृष्णन को इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय से स्थानांतरित कर दिया गया है। जहां गोपालकृष्णन ई-गवर्नेंस, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, कृत्रिम बुद्धिमत्ता, उभरती हुई प्रौद्योगिकियां, स्टार्टअप और नवाचार जैसी महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां संभालते थे। गोपालकृष्णन की जगह यह पद अब 1992 बैच तमिलनाडु कैडर के अधिकारी राजेंद्र कुमार संभालेंगे।

IIT-IIM से पढ़ें गोपालकृष्णन

आईएएस अधिकारी गोपालकृष्णन ने IIT मद्रास से इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन की है। उसके बाद गोपालकृष्णन ने IIM बेंगलूरू से पोस्ट ग्रेजुएशन की है। गोपालकृष्णन के पास इरास्मस यूनिवर्सिटी ऑफ़ रॉटरडैम से विकास अध्ययन में स्नातकोत्तर की डिग्री भी है।

गोपालकृष्णन के साथ दो और अन्य अधिकारियों की हुई नियुक्तियां

गोपालकृष्णन के अलावा प्रधानमंत्री कार्यालय में भारतीय प्रौद्योगिकी के श्रीधर और हिमाचल प्रदेश की आईएएस अधिकारी मीरा मोहंती की भी नियुक्ति हुई हैं। श्रीधर 2001 में जेनेटिक्स और प्लांट ब्रीडिंग में विशेषज्ञता के साथ कृषि में स्नातकोत्तर के साथ 2001 बैच के अधिकारी हैं। वर्तमान श्रीधर मसूरी में आईएएस प्रशिक्षण अकादमी में उप निर्देशक के रूप में केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं।

वहीं मीरा मोहंती को कैबिनेट सचिवालय से निर्देशक के रूप में पीएमओ में शामिल किया गया है। मोहंती हिमाचल प्रदेश की 2005 बैच की आईएएस अधिकारी। मीरा वर्तमान में कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग में कार्यरत है। अब उनकी जगह 2008 बैच की नागालैंड कैडर की आईएएस अधिकारी स्मिता सारंगी को नियुक्त किया गया है।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply