इंसानियत की मिसाल: सिपाही ने गर्भवती महिला को काँवड़ में बैठाकर पार कराया नाला

कुछ खबरों को पढ़ कर इंसानियत पर हमारा भरोसा और बढ़ जाता है। इस भरोसे को कायम करने वाली एक खबर छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले से आई है। यहाँ एक पुलिसकर्मी ने एक गर्भवती महिला को काँवड़ में बैठाकर नाला पार करवाया।

नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक, यह मामला 4 अगस्त का है। कोरबा जिले के वनांचल क्षेत्र में पड़ने वाले पीतरडांड गाँव में एक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा होने लगी। महिला को अस्पताल ले जाने की जरूरत थी। महिला की नाजुक हालत को देखते हुए परिजनों ने इमरजेंसी नम्बर 112 पर फोन लगाया। थाने से कुछ पुलिसकर्मी मौके पर पहुँचे।

अस्पताल जाने के रास्ते में एक बड़ा नाला था जिसे पार करना महिला के लिये सम्भव नहीं था। इस स्थिति को देखते हुए सिपाही सुखदेव उरांव को एक युक्ति सूझी। उन्होंने एक लकड़ी और रस्सी की सहायता से काँवड़ बनाया। महिला को काँवड़ में बैठाकर आसानी से नाला पार करा दिया।

सुखदेव की मदद से महिला समय पर अस्पताल पहुँच पाई और उसका उचित इलाज हो पाया। सुखदेव ने अपने नेक काम से यह साबित किया है कि पुलिस की वर्दी लोगों की सहायता करने के लिए होती है। जानकारी के मुताबिक फिलहाल महिला स्वस्थ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *