बुलेट चलाना पड़ा महंगा, 57,000 का जुर्माना, 11 महीने में 101 बार तोड़ा कानून

बुलेट चलाना पड़ा महंगा, 57,000 का जुर्माना, 11 महीने में 101 बार तोड़ा कानून (Image Credit: Navbharat Times)

देश का स्थानीय शासन और प्रशासन मोटर वाहन नियमो को सख्ती से पालन कराने के लिए दिन रात प्रयास करता है। इसके बावजूद कुछ लोग अपनी मनमानी कर नियमों का पालन नहीं कर रहे है। यह मामला बेंगलुरु शहर का है। एक बुलेट चालक राजेश कुमार (उम्र 25 वर्षीय) ने पिछले 11 महीने में 101 बार कानून तोड़ा है। कानून तोड़ने के वजह से उन पर 57,000 का फाइन लगाया गया है।

बताया जा रहा है कि राजेश कुमार एक निजी कंपनी में काम करते है। वह रोज़ घर से काम पर अपनी बाईक से जाते है। राजेश ने बुधवार को सिग्नल पर रेड लाइट क्रॉस कर ली थी, जिसकी वजह से पुलिस ने उन्हें रोक लिया। सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि राजेश के ऊपर पहले ही 6 चालान कट चुके हैं और यह 7वां चालान काटा गया है।

पुलिस को बाद में यह भी पता चला है कि राजेश पर कुल 94 केस पेंडिंग पड़े है। राजेश ने अभी तक 94 चालान नहीं भरे है। राजेश ने सितंबर 2019 से एक भी चालान कि भरपाई नहीं कि है। उन्होंने यह बुलेट भी 2019 में ही ली थी। पुलिस कर्मियों ने बताया है कि राजेश ने इस साल अप्रैल महीने के बाद 60 बार कानून तोड़ा है। यह मामला अब सीनियर ऑफिसर्स तक पहुंच गया है। अब राजेश को 5.5 फीट लंबा चालान सौंपा गया है। पुलिसकर्मियों का कहना है की वह हेलमेट भी नहीं लगाते है।

पुलिस ने राजेश कि बाईक ज़प्त कर ली है। उन्हें बाईक 57,000 का फाइन भरने के बाद ही लौटाई जाएगी। अगर वह फाइन नहीं भर पाए, तो उन्हें बाईक लेने के लिए कोर्ट जाना होगा।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply