COVID-19: इंदौर में कोरोनावायरस के कारण एक और डॉक्टर ने तोड़ा दम

Read in English

देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में कोरोनवायरस अपना बरपाना कम नहीं कर रहा है। शुक्रवार को इंदौर में एक और डॉक्टर ओम प्रकाश चौहान ने कोरोनोवायरस की इस जंग में दम तोड़ दिया है। इसके साथ ही शहर में कोरोनवायरस के कारण मरने वालों की कुल संख्या 27 हो गई है । शुक्रवार को आई कोरोना की रिपोर्ट में 300 मरीजों के सैंपल लिए गए जिसमें 14 मरीजों की रिपोर्ट पाॅजटिव आई इसके साथ ही शहर में कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 249 हो गई।

डॉक्टर का अरंविदों अस्पताल में चल रहा था इलाज

डाॅं ओम प्रकाश चौहान का अरंविदों अस्पताल में इलाज चल रहा था। सीएमएचओ डाॅ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि शुक्रवार सुबह 11 बजे ब्रह्मबाग निवासी 65 साल के डॉक्टर और पूर्व जिला आयुष अधिकारी की मौत हो गई। वे धार में पोस्टेड रहे। वर्तमान में निजी प्रैक्टिस कर रहे थे। दो दिन पहले इन्हें अरविंदो में भर्ती किया गया था। इसके पहले इनका सात दिन तक निजी अस्पताल में इलाज चला। दो दिन पहले इनकी पाॅजिटिव रिपोर्ट आई थी। किसी भी प्रकार की कांटेक्ट और ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। ओमप्रकाश चौहान काफी समय से अपने प्राइवेट क्लिनिक में क्षेत्र के वहां रहने वाले लोगों का इलाज कर रहे थे.संभवत: अपने क्लीनिक में किसी मरीज के संपर्क में आने से ये संक्रमित हुए थे।

मरीजों की मौतों में लगातार हो रही वृध्दि

शहर में कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। काेराेनावायरस संक्रमण के कारण इंदौर में शुक्रवार को एक डॉक्टर समेत चार संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। शुक्रवार को जो मामले सामने आए, उनमें सत्यदेव नगर निवासी 52 साल के पुरुष का एमवाय अस्पताल में तीन दिन से इलाज चल रहा था। 8 अप्रैल को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसी दिन उन्होंने दम तोड़ दिया था। वहीं, पिंजारा बाखल निवासी 65 साल के बुजुर्ग की 7 अप्रैल को मौत हो गई थी। उनकी 9 अप्रैल को रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसी तरह जूना रिसाला निवासी 70 साल के बुजुर्ग की रिपोर्ट 9 अप्रैल को पॉजिटिव आई थी और इसी दिन उन्होंने दम तोड़ दिया था।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply