नंदबाबा मंदिर में नवाज के बाद अब शाही ईदगाह में पढ़ा गया हनुमान चालीसा, शांति भंग करने की आशंका में गिरफ्तार

नंदबाबा मंदिर में नवाज के बाद अब शाही ईदगाह में पढ़ा गया हनुमान चालीसा, शांति भंग करने की आशंका में गिरफ्तार (image credit- zee)

यूपी के मथुरा में नंदबाबा के मंदिर में नमाज पढ़ने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि अब कुछ हिंदू युवकों ने गोवर्धन की ईदगाह मस्जिद में जाकर हनुमान चालीसा पढ़ दी। मस्जिद में हनुमान चालीसा के पाठ का वीडियो जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, तो पुलिस हरकत में आई और इन युवको शांति भंग करने की आशंका में गिरफ्तार कर लिया। यह भी पढ़ें: बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ले रहीं हैं रिटायरमेंट?‌ जानिए पूरा ख़बर

यह है पूरा मामला

दरअसल, मथुरा के नंदबाबा मंदिर में 29 अक्टूबर को 2 मुस्लिमों के नमाज पढ़ने के विरोध में बरसाना रोड की शाही ईदगाह में 4 युवकों ने हनुमान चालीसा का पाठ किया और जय श्रीराम के नारे लगाए। यह भी पढ़ें: महिला विरोधी बयान को लेकर विवादों में घिरे केरल कांग्रेस अध्यक्ष, मांगी माफी

जानकारी के मुताबिक, ईदगाह में हनुमान चालीसा पढ़ने वाले युवकों के नाम सौरभ लंबरदार, राघव मित्तल, कान्हा और कृष्णा ठाकुर हैं। ये सभी गोवर्धन इलाके में ही रहते हैं। हालांकि अभी तक इस मामले में किसी तरह की कोई तहरीर नहीं दी गई है लेकिन सोशल मीडिया पर पोस्ट वायरल होने के बाद चारों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

जिसके बाद में पुलिस ने हिन्दू युवाओं का शांतिभंग की धारा में चालान कर दिया। वहीं मामले पर हिंदू युवाओं ने कथित तौर पर दावा किया है कि उन्होंने मस्जिद में ‘भाईचारे को बढ़ावा देने’ के लिए हनुमान चालीसा का पाठ किया। यह भी पढ़ें: फिर विवादों में घिरे शक्तिमान, महिलाओं पर दी विवादित टिप्पणी

कानून से बड़ा कोई नहीं है

मथुरा के डीएम सर्वज्ञ राम मिश्र ने इस मामले को लेकर कहा कि कानून से बड़ा कोई नहीं है, अगर कोई गैरकानूनी काम करता है, तो विधिक रूप से कार्रवाई की जाएगी।

वहीं मामले पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) डॉ. गौरव ग्रोवर ने बताया कि मथुरा में पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है। कोई भी व्यक्ति अगर माहौल खराब करने के बाद उस पर कार्रवाई की जाएगी। एसएसपी ने शांति पूर्ण माहौल कायम रखने के लिए शहरवासियों से अपील की है। यह भी पढ़ें: कश्मीरी युवाओं के भविष्य को बचाने के लिए हम किसी भी हद तक जाएंगे‌- महबूबा मुफ्ती

नमाज पढ़ने वाला एक आरोपी कोरोना पॉजिटिव

ग़ौरतलब है कि, मंदिर में नवाज पढ़ने वाले फैजल को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे 14 दिन की ज्यूडिशियल कस्टडी में जेल भेज दिया गया। इससे पहले कोरोना टेस्ट में वह पॉजिटिव आया। इसलिए, उसे अस्थाई जेल में रखा जाएगा। यह भी पढ़ें: बीएमसी सरकार का नया नियम, मास्क नहीं लगाया तो लगानी पड़ेगी झाड़ू


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *