असम में भूखे तेंदुए की पीट-पीट कर हत्या, दांत और नाखून भी निकाले

केरल में एक गर्भवती हथिनी की पटाखों से भरा अनानास खिलाकर हत्या और हिमाचल प्रदेश में गर्भवती गाय के साथ दरिंदगी के बाद देश के पूर्वोत्तर हिस्से से भी जानवरों के प्रति हिंसा की एक भयावह घटना सामने आई है। असम के गुवाहाटी जिले के गोरचुक के कताबरी इलाके में रविवार को लोगों की भीड़ ने एक तेंदुए को पीट-पीट कर मार डाला। इंसानों की हैवानियत यहीं नहीं रुकी, लोगों ने तेंदुए की हत्या के बाद उसके दांत और नाखून भी निकाल लिए। इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है जिसमें कुछ लोग मरे हुए तेंदुए का शव लेकर जुलूस निकाल रहे हैं और शोर मचा रहे हैं।

असम में भूखे तेंदुए की पीट-पीट कर हत्या, दांत और नाखून भी निकाले - सूचना
Image Credit : India.com

खाने की तलाश में भटक रहा था तेंदुआ

रिपोर्ट के मुताबिक, यह तेंदुआ कई दिनों से भूखा था और खाने की तलाश में भटक कर रिहायशी इलाके में पहुंच गया था। रविवार सुबह तेंदुए को देखते ही इलाके के लोगों ने पहले उसे जाल में फंसाया, लेकिन वह किसी तरह बच निकला और जंगल की ओर भाग गया। इसके बाद कुछ लोग तेंदुए का पीछा करते हुए जंगल में घुसे और उसे पकड़ कर मार डाला। वहीं कुछ स्थानीय लोगों का कहना है कि अगर वन विभाग तुरंत कार्रवाई करता तो इस घटना को टाला जा सकता था। उनका कहना है कि रविवार सुबह पांच बजे ही वन विभाग को पकड़े गए तेंदुए के बारे में खबर दे दी गई थी, लेकिन जब तक विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे तब तक तेंदुआ भाग गया था।

हत्या और शिकार का मामला दर्ज

कामरूप ईस्ट डिविजन के डीएफओ राजीव बरुआ के मुताबिक, ‘वह आठ साल का नर तेंदुआ था, जिसे स्थानीय लोगों ने जाल में फंसाया और फिर उसकी हत्या कर दी। इस बारे में मामला दर्ज कर लिया गया है और कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। हत्या के बाद तेंदुए के दांत निकाल लिए गए थे, इसलिए दोषी लोगों पर अवैध शिकार का मामला भी दर्ज किया जाएगा।’ उन्होंने बताया, ‘तेंदुए ने किसी पर हमला नहीं किया और न ही उसने किसी का कोई नुकसान किया, इसलिए हमले के लिए उकसाने जैसा कोई मामला ही नहीं बनता है।’

बेजुबानों को इंसाफ दिलाने की मांग

इस घटना को लेकर लोग सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। कई लोग जानवरों की निर्मम हत्या के दोषियों को सजा दिलाने और बेजुबानों को इंसाफ दिलाने की मांग भी कर रहे हैं। वहीं पुलिस के मुताबिक, तेंदुए की हत्या के मामले में एक नाबालिग और पांच अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मामले की जांच चल रही है और घटना में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। असम में इस साल तेंदुए की हत्या की यह पांचवी घटना है।

बीते हफ्ते भी हुई थी जानवरों के साथ दरिंदगी

जानवरों के साथ दरिंदगी ऐसी ही दो दर्दनाक घटनाएं कुछ दिन पहले भी सामने आई थीं। केरल के पलक्कड़ जिले में एक गर्भवती हथिनी ने पटाखों से भरा अनानास खा लिया था। पटाखे फटने से उसकी जीभ और मुंह बुरी तरह घायल हो गया। हथिनी दर्द और भूख के कारण गांव में भटकती रही। असहनीय दर्द के कारण वह हथिनी तीन दिन तक नदी में खड़ी रही और फिर वहीं उसकी मौत हो गई। यह घटना 27 मई की बताई जा रही है। इस घटना को लेकर रतन टाटा और अनुष्का शर्मा जैसी कई बड़ी हस्तियों ने दुख जताया था और दोषियों को सजा देने की मांग की थी। वहीं, हिमाचल प्रदेश में एक गाय को कुछ शरारती तत्वों ने विस्फोटक खिला दिया था। इस हादसे में गाय बुरी तरह घायल हो गई और उसका पूरा जबड़ा उड़ गया। यह गाय भी गर्भवती थी और इसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *