कोरोनावायरस की अफवाहों को रोकने के लिए 1 मिलियन डॉलर खर्च करेगा वॉट्सऐप

सोशल मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप ने कोरोनावायरस को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों को रोकने के लिए एक सराहनीय कदम उठाया है। वाट्सऐप ने बुधवार को कोरोनावायरस से जुड़ी जानकारियां हासिल करने के लिए एक इंफॉर्मेशन हब लॉन्च किया और पॉयन्टर इंस्टीट्यूट इंटरनेशनल फैक्ट चेकिंग नेटवर्क (आईएफसीएन) को 1 मिलियन डॉलर (करीब 7.5 करोड़ रुपए) देने का ऐलान किया। इस पहल का उद्देश्य कोरोनावायरस को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों और भ्रामक खबरों से निपटना है।

Image result for WhatsApp will spend $ 1 million to stop Coronavirus rumors
Image credit: The Economics Times

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO), यूनिसेफ और संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) के साथ साझेदारी में शुरू किए गए इस कार्यक्रम के तहत स्वास्थ्यकर्मियों, शिक्षकों, सामुदायिक नेताओं, गैर-लाभकारी संस्थाओं, स्थानीय सरकारों और स्थानीय कारोबारों को कोरोनावायरस से जुड़ी साधारण जानकारियां दी जाएंगी।

कोरोनावायरस की मिलेगी जानकारी

वॉट्सऐप ने एक बयान में कहा कि कंपनी का इन्फॉर्मेशन हब whatsapp.com/coronavirus पर स्वास्थ्यकर्मियों, शिक्षकों, सामुदायिक नेताओं, गैरलाभकारी संस्थाओं, स्थानीय सरकारों और स्थानीय कारोबारों को कोरोनावायरस से जुड़ी सामान्य जानकारी और उपयोग किए जाने लायक परामर्श उपलब्ध कराएगा।

कंपनी की ओर से बताया गया कि वेबसाइट पर वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए तथा स्वास्थ्य संबंधी सटीक जानकारियां उपलब्ध कराएगी। आईएफसीएन को दी गई सहायता राशि 45 देशों की करीब 100 स्थानीय संस्थाओं तक पहुंचेगी, जो कोरोना वायरस से संबंधित सच्चाई की जांच करने का काम करती हैं।

संक्रमित लोगों की संख्या 1.98 लाख से ज्यादा

दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 1.98 लाख के पार जा चुकी है, जबकि 8000 से ज्यादा लोगों की इस संक्रमण से मौत हो चुकी है। बता दें कि भारत सरकार ने अधिकारियों को ऐहतियातन सरकारी कामकाज करने के लिए मिलने-जुलने और बैठकें कम करके वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत करने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही स्कूल, कॉलेजों व अन्य सार्वजनिक जगहों को भी फिलहाल बंद करने का आदेश दिया गया है।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply