ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म्स के जरिए घर से काम करते हुए बढ़ाएं अपनी स्किल्स

कोरोनावायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए लोग सोशल डिस्टेंसिंग यानी सामाजिक दूरी बनाने की कोशिश कर रहे हैं और लोगों से मिलने व भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बच रहे हैं। इस मुश्किल दौर में कई कंपनियों ने भी अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम यानी घर से काम करने की सुविधा दी है ताकि वे इस खतरनाक बीमारी के संक्रमण से बच सकें। घर से काम करते हुए आप न सिर्फ कोरोनावायरस के संक्रमण से बच सकते हैं, बल्कि अपनी स्किल्स को भी निखार सकते हैं।

Image Credit : Business Line

हाल ही में हुए एक शोध में पाया गया है कि ऑफिस आने-जाने में लगने वाले लंबे समय के कारण लोगों को फुरसत के पल कम मिल पाते हैं। इससे लोगों में तनाव पैदा होता है और यह उनके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। शोध के मुताबिक, घर से काम करने में ऑफिस आने-जाने में लगने वाला समय और पैसा बच जाता है, जिससे लोगों को संतुष्टि मिलती है और उन्हें अपनों के साथ वक्त बिताने का मौका भी मिल जाता है।

घर से काम करने का एक फायदा यह भी है कि ऑफिस का काम करने के साथ-साथ आप अपनी ऊर्जा और समय कुछ नया सीखने में भी लगा सकते हैं, जैसे- कोई नया कोर्स करना, कोई नई भाषा सीखना या अपने पेशे में ही कुछ नई चीजें सीखना। इसके जरिए पेशेवर लोग खुद को अपग्रेड कर सकते हैं। इससे न सिर्फ कर्मचारियों बल्कि कंपनियों को भी फायदा होगा। ऐसे कई ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स हैं जो कंपनियों के साथ साझेदारी कर उनके कर्मचारियों को नई जिम्मेदारियों के लिए तैयार कर रहे हैं। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स के बारे में-

एडेक्स

एडेक्स एक Massive Open Online Course (MOOC) प्लेटफॉर्म है, जिसे Massachusetts Institute of Technology (MIT) और Harvard University ने मिलकर बनाया है। यह विश्वविद्यालय स्तर का कोर्स है, जिसके लिए 100 से ज्यादा वैश्विक संस्थानों के साथ करार किया गया है। इस प्लेटफॉर्म में कुछ कोर्स निशुल्क हैं जबकि कुछ के लिए फीस तय है। इसके कुछ कोर्सों के तहत सर्टिफिकेट या डिप्लोमा धारक विद्यार्थियों को एडेक्स से जुड़े विश्वविद्यालयों में स्नातकोत्तर कार्यक्रमों में प्रवेश दिया जाएगा। इस प्लेटफॉर्म में कई विषयों से जुड़े कोर्स उपलब्ध हैं।

कोर्सेरा

एडएक्स की तरह कोर्सेरा में भी विभिन्न प्रकार के ऑनलाइन कोर्स उपलब्ध हैं। इसके कई कोर्स 4 से 6 हफ्तों के हैं। इस प्लेटफॉर्म में 100 से ज्यादा फ्री कोर्स हैं जिनमें पेशेवर लोग वीडियो लेक्चर और वर्चुअल कम्युनिटी डिस्कशन के जरिए हिस्सा ले सकते हैं। हालांकि सर्टिफिकेट हासिल करने के लिए कोर्स की पूरी फीस भरनी प़ड़ेगी। कोर्सेरा ने इसके लिए Google और IBM जैसी नामचीन कंपनियों के साथ साझेदारी की है।

यूडेमी

यह प्लेटफॉर्म दुनिया भर में शिक्षकों और विद्यार्थियों को जोड़ता है ताकि वे अध्ययन और अध्यापन कर सकें। इस प्लेटफॉर्म में कई तरह के प्रबंधन व तकनीकी कोर्स भी हैं, जिनके जरिए कंपनियां अपने कर्मचारियों को नए स्किल्स सीखने में मदद कर सकती हैं।

अनएकेडेमी

अनएकेडेमी भारत में शुरू किया गया ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जोकि प्रशासनिक सेवाओं और बैंकिंग आदि की परीक्षाओं की तैयारी करने में विद्यार्थियों की मदद करता है। यह एक वर्चुअल कोचिंग सेंटर की तरह काम करता है। यह प्लेटफॉर्म तीन लाख से ज्यादा विद्यार्थियों को 2400 से ज्यादा कोर्स उपल्ब्ध कराता है।

कोडेकेडेमी

जैसा कि नाम से ही साफ है, यह प्लेटफॉर्म को़डिंग सीखने के इच्छुक विद्यार्थियों के लिए बनाया गया है। यह ऑनलाइन प्लेटफॉर्म विभिन्न तरह के प्रोग्रामिंग कोर्स उपलब्ध कराता है। इसके बेसिक वर्जन में 180 घंटे के फ्री लेक्चर मिलते हैं, जिनसे विद्यार्थी लाभ उठा सकते हैं।

स्किलशेयर

यह एक तरह की Online learning community है जोकि डिजाइनिंग, फोटोग्राफी और वीडियो मेकिंग में दिलचस्पी रखने वाले युवाओं की रचनात्मकता पर फोकस करती है। यह प्लेटफॉर्म शिक्षकों को अपनी अध्यापन सामग्री ऑनलाइन अपलोड करने का मौका देता है। इसके पेड वर्जन में 20 हजार से ज्यादा क्लासेज हैं, जबकि फ्री वर्जन में सिर्फ 1600 क्लासेज हैं। कोई भी यूजर इसका फ्री या पेड वर्जन लेकर अपनी रुचि का कोर्स चुन सकता है।

Leave a Reply