अमेरिका में फंसे हजारों भारतीयों को मिली राहत की ख़बर

अमेरिका फंसे हजारों भारतीयों को मिली राहत की ख़बर
Photo credit: patrika

कोरोना वायरस के वजह से अमेरिका में फंसे हजारों भारतीय पेशेवरों के लिए राहत की खबर है। अमेरिकी सरकार ने एच-1बी वीजा धारकों को अतिरिक्त समय तक देश में रहने की अनुमति देने के लिए आवेदन स्वीकार करना प्रारम्भ कर दिया है। जैसा कि ज्ञात है, कोरोना वायरस महामारी के चलते लगभग पूरी दुनिया लॉकडाउन के दौर से गुजर रही है और सभी यात्री सेवाएं रद्द हैं। एच-1बी वीजा एक गैर-प्रवासी (Non-migrant) वीजा है, जो अमेरिकी कंपनियों को विशेषज्ञता के आधार पर प्राप्त विदेशी कर्मचारियों को नौकरी पर रखने की अनुमति देता है। भारत और चीन जैसे देशों के हजारों पेशेवरों को हर साल अमेरिका की टेक्नोलॉजी कंपनियां इस वीजा के आधार पर नौकरी देने का कार्य करती है। अमेरिका के होमलैंड सिक्योरिटी विभाग (डीएचएस) ने एक नई सूचना जारी की है और कहा है कि “वह इस बात को समझता है कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से आप्रवासन संबंधी चुनौतियां आई हैं और अमेरिका ने यह घोषणा ऐसे समय में की है जब विभिन्न देशों ने अपनी सीमाएं बंद कर दी हैं और पूरी दुनिया में अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों पर रोक लगी हुई है।” 

Covid-19: US allows extension of H-1B visas in relief for stranded Indians
Photo credit: Avionics magezine

यातायात रुक जाने के चलते कई ऐसे एच-1बी वीजाधारक अमेरिका में फंस गए थे जिनके वीजा परमिट की अवधि जल्द ही पूरी होने जा रही थी। संभवतः  डीएचएस जल्द ही ऐसे वीजा के विस्तार के लिए आवेदन लेना शुरू कर देगा जिनकी अवधि समाप्त होने वाली है। विभाग ने कहा है कि, ‘हम मानते हैं कि कोरोना वायरस की वजह से गैर-अप्रवासी अपने प्रवास की तय अवधि से अधिक समय के लिए अमेरिका में रह सकते हैं।’


Connect With US- Facebook Twitter | Instagram

Leave a Reply