कोरोनावायरस : आपके बच्चों को कितना है खतरा?

इन दिनों पूरी दुनिया कोरोनावायरस के खतरे से जूझ रही है। चीन, अमेरिका, इंग्लैंड और इटली जैसे विकसित देश भी इसके प्रकोप को काबू कर पाने में नाकाम साबित हो रहे हैं। भारत में भी अब तक इसके 500 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। लगातार फैल रही इस महामारी को को देखते हुए जो माता-पिता अपने बच्चों को लेकर फिक्रमंद हैं, उनके लिए राहत की बात यह है कि बच्चों के कोरोनावायरस या COVID-19 से संक्रमित होने का खतरा दूसरों के मुकाबले काफी कम है।

Image Credit : Deccan Herald

Centers for Disease Control and Prevention (CDC) के मुताबिक, अब तक मिले प्रमाणों के आधार पर कहा जा सकता है कि वयस्कों की तुलना में बच्चों को इस बीमारी का खतरा कम है। इसके बावजूद जो माता-पिता अपने बच्चों की सेहत को लेकर चिंतित हैं उन्हें कुछ बातें जरूर जान लेनी चाहिए, जो हम यहां बता रहे हैं-

माता-पिता किस तरह अपने बच्चों को कोरोनावायरस से बचा सकते हैं?

CDC का कहना है कि कोरोनावायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए माता-पिता अपने बच्चों को इस वायरस को फैलने से रोकने के बारे में कुछ बातें बता सकते हैं। जो हैं-

  • समय-समय पर साबुन और पानी से हाथ धोते रहें या फिर एल्कोहल वाले सैनेटाइजर से अपने हाथ साफ करते रहें।
  • बीमार लोगों, खासकर जिन्हें खांसी या छींक आ रही हो, उनसे दूर रहें।
  • घर में हमेशा छुई जाने वाली वस्तुओं जैसे- कुर्सी, मेज, दरवाजों के हैंडल, लाइट के स्विच, रिमोट, मोबाइल, टॉयलेट और सिंक आदि को साफ और कीटाणुमुक्त करते रहें।
  • धोए जा सकने वाले खिलौनों और सॉफ्ट टॉयज को नियमित अंतराल पर धोते रहें क्योंकि इनमें भी कीटाणु हो सकते हैं। बीमार व्यक्ति के गंदे कपड़े दूसरे लोगों के कपड़ों से अलग धोएं।
  • अपने बच्चों को बताएं कि खांसते या छींकते वक्त मुंह पर रुमाल या टिशू पेपर रखें, न कि हाथ।
  • बच्चों के साथ किसी भी भीड़भाड़ वाली जगह पर जाने और बस या ट्रेन में यात्रा करने से बचें।

क्या बच्चों और वयस्कों में कोरोनावायरस के लक्षण अलग-अलग होते हैं?

इसका जवाब है नहीं। बच्चों और वयस्कों में कोरोनावायरस के लक्षण एक जैसे ही होते हैं। CDC के मुताबिक, कोरोनावायरस से संक्रमित बच्चों में इसके हल्के लक्षण नजर आते हैं। बच्चों में अब तक सामने आए लक्षणों में बुखार, नाक बहना, और खांसी शामिल है। इसके अलावा बच्चों में उल्टी और दस्त जैसे लक्षण भी सामने आए हैं। हालांकि वे बच्चे जो किसी बीमारी से जूझ रहे हैं या जिन बच्चों को विशेष स्वास्थ्य सुविधाएं चाहिए, उन्हें इस बीमारी का ज्यादा खतरा हो सकता है। CDC का कहना है कि बच्चों को यह बीमारी किस तरह से प्रभावित करती है, इसके बारे में अभी और अध्ययन की जरूरत है।

क्या बच्चों को इस बीमारी से बचने के लिए मास्क पहनना चाहिए?

इसका जवाब भी ना है। अगर आपका बच्चा स्वस्थ है तो उसे मास्क पहनने की कोई जरूरत नहीं है। CDC के मुताबिक, मास्क सिर्फ उन लोगों के लिए जरूरी है जो कोरोनावायरस से संक्रमित हैं या जो इसके मरीजों के इलाज और देखभाल में लगे हैं।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply