कानपुर में मास्क न पहनने पर बकरे को किया गया गिरफ्तार, जानिए वायरल खबर का सच

उत्तरप्रदेश के कानपुर शहर में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया जहाँ बेकनगंज थाना पुलिस ने एक बकरे को मास्क न पहनने के लिये हिरासत में लिया। इस खबर के प्रकाशित होते ही यह सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस बिना मास्क के निकलने वालों के खिलाफ कार्रवाई कर रही थी। इसी दौरान एक बकरा सड़क पर घूमते हुए दिखा, जिसे उठाकर पुलिस वालों ने जीप में डाल लिया और थाने ले गये।

जिस पुलिसवाले ने बकरे को गिरफ्तार किया था, उसका कहना है कि बकरा लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करते हुए पाया गया था। अनवरगंज सर्किल ऑफिसर (CO) सैफुद्दीन बेग ने बताया कि एक युवक बगैर मास्क लगाए बकरे को ले जा रहा था, जब उसने पुलिस को देखा तो बकरे को छोड़कर भाग गया इसलिए पुलिस वाले बकरे को थाने ले आए। बकरे को मालिक को बकरा लौटा दिया गया और हिदायत दी गई कि बकरे को आवारा न घूमने दिया जाए। इस खबर को दैनिक भास्कर, लोकसत्ता, नवभारत टाइम्स और इंडिया टाइम्स समेत कई न्यूज़ पोर्टल्स ने बिना पड़ताल किये प्रकाशित किया।

वायरल खबर का सच:

एक युवक ने 26 जुलाई को कानपुर पुलिस को टैग करते हुए एक ट्वीट में लिखा, “एक युवक ने पुलिस पर बकरे को जबरन ले जाने का आरोप लगाया।” इसके साथ उसने एक वीडियो भी शेयर किया, जिसमें पुलिस वाले बकरे को गाड़ी के अन्दर कर रहे थे।

इस ट्वीट का जवाब देते हुए कानपुर पुलिस ने ट्वीट किया, “बेकनगंज थाने के प्रतिनिधि द्वारा बताया गया कि लॉकडाउन में बकरा लावारिस घूम रहा था जिसे थाने लाया गया था। बकरे के मालिक मोहम्मद अली के थाने आने पर उन्हें नियमानुसार बकरे को सौंप दिया गया। शेष आरोप असत्य व निराधार हैं।”

टाइम्स नाऊ न्यूज़ के अनुसार, बकरीद का त्योहार पास होने के कारण बेकनगंज के निवासियों ने बकरे के आवारा घूमने की जानकारी पुलिस को दी थी इसलिए पुलिस वाले उसे थाने ले गये और उसके मालिक को फोन कर जानकारी दी। बकरे के मालिक मो. अली ने पुलिस को धन्यवाद देते हुए कहा, “पुलिस ने मेरी मदद की है। अगर वह हमारे बकरे को थाने नहीं ले जाते तो वह खो जाता।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *