आवारा पशु-पक्षियों की मदद कर रहे हैं बाॅलीवुड सेलिब्रिटी, सोशल मीडिया पर लोगों को भी कर रहे हैं प्रोत्साहित

कोरोना वायरस के कारण न सिर्फ इंसानों को बल्कि पशु-पक्षियों को भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इस लाॅकडाउन के दौरान पशु-पक्षियों को भी भोजन के लिए परेशान होना पड़ रहा है। इस दौरान कई आम आदमी और एनजीओ पशु-पक्षियों की मदद करने और उनकी देखभाल करने के लिए आगे आए हैं। इनके अलावा बाॅलीवुड के कुछ सेलिब्रिटी जैसे सिंगर मोहित चौहान, रैपर रफ्तार, अभिनेत्री ईशा गुप्ता, जया भट्टाचार्य, सांभवना सेठ, डेजी शाह और सोनाली सयगल सहित कई अन्य सेलिब्रिटी भी पशु-पक्षियों की मदद करने व उनको भोजन कराने के लिए आगे आए हैं। इसके अलावा यह सेलिब्रिटीज सोशल मीडिया के माध्यम से अन्य लोगों को भी पशु-पक्षियों की देखरेख करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं।

संभावना और ईशा आवारा कुत्ते बिल्लियों की परिवार की तरह देखरेख करती हैैं

एक्ट्रेस ईशा गुप्ता ने एक नोट शेयर करते हुए बताया कि, “मेरे आस-पास रहने वाले आवारा कुत्ते और बिल्लियां मुझे फीडर (जो पशुओं को भोजन उपलब्ध कराते हैं) के रूप में जानते हैं। मुझे उन्हें प्यार से खिलाने पर बड़ी खुशी महसूस होती है। आजकल वे मेरा बड़ी बेसब्री से इंतजार करते हैं। मैं पक्षियों के लिए पानी और अनाज का कटोरा भी रखती हूँ। ताकि वे भी भूखे और प्यासे न रहें।”

वहीं एक्ट्रेस संभावना सेठ अपने पति अविनाश द्विवेदी के साथ मिलकर पशु-पक्षियों की देखरेख करती हैैं। उन्होंने सोशल मीडिया पर पशुओं की मदद करते हुए लिखा, “मेरे घर तीन कुत्ते हैं, वे मेरे बच्चों की तरह हैं। पशु हम मनुष्यों के विपरीत होते हैैं, वे भूख लगने पर हमारी तरह बोल नहीं पाते। जबकि बहुत से तो भोजन किए बिना ही सो जाते हैं। मैं कुछ फीडर के साथ जाती हूँ। जो पशुओं की मदद करने और उनकी देखभाल करने के लिए कई स्थानों पर जाते हैं। इसके अलावा मैं भी कई जगहों पर घूमने जाती हूँ, जहां भी मुझे पशु दिखते हैैं, वहां उन्हें मैं खरीदकर कुछ खिलाती हूँ”।

मोहित और रैपर रफ्तार ने एनजीओ के जरिए बढ़ाया मदद का हाथ

बाॅलीवुड के फेमस सिंगर में से एक मोहित चौहान रोजाना 60 – 70 आवारा कुत्तों को भोजन कराते हैं। इसके अलावा वे पशुओं के स्वास्थ्य की भी देखरेख करते हैं।

मोहित के अलावा रैपर रफ्तार भी अपने एनजीओ 4dogshakeIndia के साथ मिलकर आवारा पशुओं और पक्षियों की देखरेख करते हैं। लाॅकडाउन के दौरान उनके एनजीओ ने 200 से अधिक आवारा कुत्तों की देखरेख की थी। हाल ही में उनके एनजीओ ने तीन साल पूरे किए हैं। जिसकी जानकारी उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर कर दी।

कई सालों से पशुओं की देखरेख कर रही है जया भट्टाचार्य

जया भट्टाचार्य कई सालों से आवारा पशु-पक्षियों की देखभाल कर रही है। जया ने सोशल मीडिया पर बताया कि मुझे बड़ा बुरा लगता है कि कैसे आवारा जानवरों का इलाज किया जाता है। यदि आप उनकी देखभाल नहीं कर सकते हैं, तो कृपया आप उन्हें दुख न दें। यहां तक ​​की कई फीडरों को भी परेशान किया जाता हैं। मेरे एक मित्र के पति को उस समय परेशान किया गया , जब वह अपने घर के पास कुत्तों को खाना खिला रहे थे। कृपया समझें कि इस संकट ने जानवरों को भी प्रभावित किया है। इन पक्षियों और जानवरों को कुछ भोजन और पानी देने से आपकी जेब नहीं जलेगी।

पशु कल्याण कार्यकर्ता ने बताया “सेलिब्रिटीज की पहल से बहुत फर्क़ पड़ता है

पशु कल्याण कार्यकर्ता अमृतिका फूल ने सोशल मीडिया पर सेलिब्रिटीज के द्वारा पशु और पक्षियों की मदद करने के लिए की जा रही पहल के बारे में बताते हुए कहा, “सेलिब्रिटीज की पहल से बहुत फर्क़ पड़ता हैं। वे खुद पशु-पक्षियों की मदद और देखरेख करते हैं और अन्य लोगों को भी ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। मुझे उम्मीद है कि लोग इन दया के कार्यों से प्रेरणा लेगें और वे भी पशु-पक्षियों की देखभाल करेगें।”

सुबह या देर शाम पशुओं को भोजन कराने का सबसे अच्छा समय होता है। अभी भी कुछ जगहों पर अधिक भोजन हो रहा है, जबकि अन्य जगहों पर भुखमरी के कारण जानवर मर रहे हैं। निर्माण स्थलों और कार्यालय क्षेत्रों के पास कई भूखे पशु हैं, जो पहले लोगों से गुलजार रहते थे लेकिन वहां अब पशु-पक्षी भूखे रहते हैं उन्हें खिलाने की जरूरत है। इसके अलावा इस फीडिंग कार्य को विभाजित किया जा सकता है ताकि कुछ लोगों पर ज्यादा बोझ न पड़े।”

Leave a Reply