हरियाणा में दिनदहाड़े चली गोली, न्याय दिलवाने के लिए ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #justice4Nikita

Colorado gun laws afford rights to those shooting in self-defense – The  Denver Post
हरियाणा में दिनदहाड़े चली गोली, न्याय दिलवाने के लिए ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #justice4Nikita

जिस हरियाणा से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ योजना की शुरुआत की थी, वहां दबंगों ने दिनदहाड़े एक लड़की की हत्या कर दी। दरअसल, घटना सोमवार को दिल्ली से सटे फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में हुई। निकिता तोमर उस वक़्त परीक्षा देकर कॉलेज से बाहर निकल रही थी। जिस दौरान दबंगों ने उस पर हमला किया। यह भी पढ़ें: 46 मिलियन फॉलोअर्स हासिल करने पर टॉपलेस फोटोज में नज़र आईं जैकलीन फर्नांडीज, सोशल मीडिया पर हुई वायरल फोटोज

इसके साथ ही निकिता के परिजनों ने मामले में ‘लव जिहाद’ का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं, परिजनों और उनके परिचितों ने फरीदाबाद-मथुरा रोड को जाम कर दिया लेकिन पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर जाम खुलवा दिया।

Nikita Murder Case: jam on Ballabhgarh-Sohna road demanding arrest of other  main accused

वहीं, लोगों के बढ़ते ग़ुस्से को देखते हुए हरियाणा सरकार ने घटना की एसआईटी जांच कराने के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि, अभियुक्तों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह भी पढ़ें: मुंबई में मानवता हुई शर्मसार, स्ट्रीट डॉग से बेरहमी से बलात्कार

यह है पूरा मामला

घटना के वायरल वीडियो में दिखाई दे रहा है कि, 21 साल की निकिता जब अपने कॉलेज से वापस आ रही थी तो रास्ते में हमलावर अपने एक साथी के साथ उसका इंतजार कर रहा था। लड़की के आते ही उसने उसे अगवा कर गाड़ी में बैठाने की कोशिश की लेकिन लड़की ने इनकार कर दिया। लड़की ने अपनी जान बचाने और वहां से जा रही एक दूसरी लड़की के पीछे छिपने की कोशिश की। यह भी पढ़ें: ताकत देख बौखलाया चीन, बोला- अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी बढ़ रही है भारत की मजबूती

अभियुक्त जब लड़की को अगवा करने में असफल रहा तो उसने उसके सिर में गोली मार दी और साथी के साथ गाड़ी लेकर मौके से फरार हो गया।

परिजनों का आरोप

परिजनों का आरोप है कि, यह लव जिहाद की घटना है। 2018 में भी निकिता के परिजनों की ओर से तौसीफ़ (हमलावर) के ख़िलाफ़ अपहरण का केस दर्ज कराया गया था लेकिन तब परिवार ने आगे की कार्रवाई से इनकार कर दिया था।

परिजनों का दबाव बढ़ने पर पुलिस ने मंगलवार को दोनों अभियुक्तों को गिरफ़्तार कर लिया। मुख्य अभियुक्त का नाम तौसीफ़ है और दूसरे का नाम रेहान है। दोनों हरियाणा के नूंह के रहने वाले हैं। बताया गया है कि तौसीफ़ मेवात जिले की नूंह सीट से कांग्रेस के विधायक का रिश्तेदार है। फिलहाल दोनों पुलिस की गिरफ़्त में हैं। यह भी पढ़ें: मोदी ने की सुमन देवी की तारीफ, जानिए कौन हैं सुमन देवी और कैसे हुई उनके काम की शुरुआत

Killed Nikita Tomar because she was about to marry someone else: Accused  confesses to Faridabad murder - India News

सोशल मीडिया पर हंगामा

घटना का वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर हंगामा हो गया। परिजनों के आरोप के बाद कुछ लोगों ने भी इसे ‘लव जिहाद’ से जोड़ दिया और समुदाय विशेष के ख़िलाफ़ कई पोस्ट्स कीं।इसके साथ ही ट्विटर पर निकिता को न्याय दिलाने के लिए #justice4Nikita भी ट्रेंड कराया गया। यह भी पढ़ें: इस एक्ट्रेस पर दर्ज हुआ एक करोड़ की मानहानि का केस, महेश भट्ट पर लगाए थे गंभीर आरोप

पुलिस पर सवाल

परिजनों का कहना है कि, मामले में पुलिस की लापरवाही है। अगर पुलिस 2018 में ही तौसीफ़ के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई करती तो शायद उसकी दिनदहाड़े इतनी बड़ी वारदात को अंजाम देने की हिम्मत नहीं होती। घटना के बाद बड़ी संख्या में सड़क पर उतरे स्थानीय लोगों ने भी यही कहा कि पुलिस को ऐसी सख़्ती तब दिखानी चाहिए थी, जैसी वह अब दिखा रही है। यह भी पढ़ें: महबूबा मुफ्ती का तिरंगा वाला बयान पीडीपी को पड़ा भारी, पार्टी के तीन नेताओं ने दिया इस्तीफा

यह घटना हरियाणा की क़ानून व्यवस्था पर भी सवाल खड़े करती है और बताती है कि खट्टर सरकार में आम आदमी महफूज नहीं है।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply