पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या, ध्वजारोहण के समय हुआ था विवाद

पश्चिम बंगाल में हो रही भारतीय जनता पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं की हत्या रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। हुगली के आरामबाग में स्वतंत्रता दिवस के दिन तिरंगा फहराने को लेकर हुए विवाद में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई। भाजपा कार्यकर्ताओं की लगातार हो रही हत्याओं को लेकर कार्यकर्ताओं में आक्रोश की स्थिति पैदा हो गई है।

भाजपा कार्यकर्ता पर सुदर्शन प्रामाणिक की ध्वजारोहण के दौरान चाकू मारकर हत्या कर दी गई। जिसके बाद उन्हें स्थानीय हैल्थ सेंटर ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद क्षेत्र में तनाव का माहौल बन गया है। घटना के बाद प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर हत्या का आरोप लगाया जा रहा है। भाजपा कार्यकर्ताओं और नेताओं ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने टीएमसी पर ध्वजारोहण के विरोध करने के आरोप लगाए हैं। रिपोर्ट के अनुसार, दौलतचक में भाजपा और टीएमसी कार्यकर्ता सामूहिक ध्वजारोहण कर रहे थे। सुबह करीब 9 बजे दोनों राजनीतिक पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच विवाद शुरू हो गया था। धीरे-धीरे विवाद हिंसा में बदल गया। वहां मौजूद लोगों के मुताबिक घटनास्थल पर बमबारी भी शुरू हो गई थी। इसी संघर्ष के बीच सुदर्शन पर हमला हुआ और वे वहीं गिर पड़े।

भाजपा इस घटना का जिम्मेदार टीएमसी कार्यकर्ताओं को ठहरा रही है। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर टीएमसी पर हत्या का आरोप लगाया। उन्होंने लिखा कि, “ममता राज में स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराना भी अपराध हो गया है! आरामबाग क्षेत्र के भाजपा के बूथ कार्यकर्ता श्री सुदर्शन प्रमाणिक की इसी मामले में हत्या कर दी गई। शक है कि यह टीएमसी के गुंडों का काम है। आज हमें इस गुंडाराज से मुक्त होने का संकल्प लेना ही होगा।

गौरतलब है कि, बीते एक महीने से भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं की हत्या की घटना सामने आ रही है। इससे पहले भी उत्तरी दिनाजपुर के हेमताबाद ने भाजपा विधायक देवेंद्रनाथ रॉय की संदेहास्पद मौत हो गई थी। उनका शव घर के पास ही बंद चाय की दुकान के सामने लटका मिला था। इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। यह भी पढ़ें: बीजेपी विधायक का शव फंदे पर लटका मिला, बीजेपी ने जताई तृणमूल मूल कांग्रेस पर हत्या की आशंका

ऐसी ही एक घटना उत्तरी दिनाजपुर में सामने आई थी जहां, भाजपा नेता की बहन की बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई थी। अगले ही इस घटना में आरोपित व्यक्ति की लाश मिली थी। इसके बाद आरोपी फिरोज अली की हत्या के शक में पीड़िता के भाई और पिता को गिरफ्तार कर लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *