कुवैत: साईकिल से भोजन बांटकर कर रहे है भारतीय नागरिकों की मदद

कोरोनावायरस महामारी ने लगभग पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। जिसके कारण लोगों को कई समस्याओं का समाना करना पड़ रहा है। कई देशों में लाॅकडाउन लगने के कारण कई भारतीय नागरिक विदेश में फंस गए है। जहां कई लोगों ने अपनी नौकरी खो दी तो कई लोग भोजन के लिए भी तरस रहे। विदेशों में लोगों को इस तरह की कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। कुछ ऐसी ही समस्याओं का सामना कुवैत में फंसे भारतीयों को भी करना पड़ रहा है। जहां इस मुश्किल समय में भारतीयों की मदद करने के लिए Indian Community Support Group (ICSG) में फूड किट डिस्ट्रीब्यूशन के स्वयंसेवक सुरेश एस राव नेरम्बल्ली आगे आए है। जिन्होंने भारतीयों को भोजन बांटकर संकट की इस घड़ी में मदद की।

दोस्त से साईकिल उधार लेकर बांटा भोजन

कुवैत में 11 मई से लाॅकडाउन लगा लागू किया गया था। जिसके बाद कार से निकलने वाले सभी लोगों पर पाबंदी लगा दी गई थी। इस दौरान सुरेश के पास भी लाॅकडाउन पास नहीं था। उन्होंने अपने दोस्त से साईकिल उधार लेकर कर्फ्यू ब्रेक के दौरान 4.30-6.30 में साईकिल से भारतीयों में भोजन बांटना शुरू किया। भोजन बांटने के दौरान उन्हें क्षेत्रीय पुलिस ने भी नहीं रोका। ईद के मौके पर भी उन्होेंने कई भारतीयों को भोजन उपलब्ध कराया और कई गरीब परिवारों को भी भोजन वितरित किया।

पेशे से है इंजीनियर

कुवैत में भारतीयों की मदद करने वाले सुरेश कर्नाटक के मंगलौर के है। वे कुवैत की तेल कंपनी में इंजीनियर हैं। वे काफी समय से समाज सेवा कर रहे हैं। उन्हें अपनी कन्नड़ सेवा और सामाजिक सेवा के लिए ‘आर्यभट्ट इंटरनेशनल अवार्ड’ भी मिला है। कुवैत में भी मदद के लिए सुरेश का कई लोगों ने ताली बजाकर उनका धन्यावाद किया।

कुवैत की महारानी और प्रधानमंत्री ने भी भोजन बांटने में सुरेश की मदद

सुरेश के इस नैक काम में सभी लोगों ने उनका समर्थन और मदद की। कुवैत की महारानी शेख सबा अल-अहमद अल-जबर अल-सबा (कुवैत राज्य का आमिर), महामहिम शेख नवाफ अल-अहमद अल-जबर अल-सबा (कुवैत के राज्य का ताज), शेख जाबेर मुबारक अल- हमाद अल-सबा (कुवैत राज्य के प्रधानमंत्री) ने भी सील क्षेत्रों में भोजन बांटने उनकी मदद की। इन सबके अलावा भारतीय दूतावास कुवैत ने उनके इस नैक काम की सराहना की।


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply