कोरोना का इलाज कर रही मैसूर की डॉक्टर को USA में मिला सम्मान

Dr. Uma Madhusudan-was-given-the-honor-to-treat-corona-patients-in-america
Image credit: Aajtak

पुरे विश्व में कोरोना का असर देखा जा रहा है और इससे लोगो को बचाने ने के लिए कुछ आगे रह कर अपना सहयोग बड़ी ही बहादुरी व जिम्मेदारी से दे रहे है। डॉक्टर्स, सफाईकर्मी, पुलिसकर्मी, मीडियाकर्मी, अन्य स्वास्थ्यकर्मी और मेडिकल एक्सपर्टस को दुनिया सम्मान के साथ -साथ आभार भी व्यक्त कर रही है। कुछ दिनों पहले लोगो ने अपनी बालकनी पर खड़े होकर इनके लिए तालियां भी बजाई थी। डॉक्टर हमारी जान बचने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे है। इसी बीच अमेरिका की डॉक्टर उमा मधुसूदन जी की भारतीय मूल से और अमेरिका के दक्षिणी विंडरस अस्पताल में कोरोना पीड़ितों का इलाज कर रही है, उनका हौसला बढ़ाने के लिए वहां की स्थानीय पुलिस ,लोकल फायरमैन, और पड़ोसियों ने उनके घर के बाहर आकर सम्मान दिया। लोगो ने उनके घर के सामने से अनोखे अंदाज में गाड़ियों का काफिला निकला है और उनका आभार व्यक्त किया है। डॉक्टर उमा को यह सम्मान देने की एक वजह यह भी थी कि वह इस मुश्किल वक्त में बेफिक्र होकर लोगो का इलाज कर रही है। 

डॉक्टर उमा अपने घर के बाहर खड़ी हुई है तभी एक एसयूवी आकर उनके  पास खड़ी होती है,  उससे सक आदमी निकल कर पोस्टर लगता है। इसके बाद 100 गाड़ियों का काफिला निकला जिसमे प्रशासनिक गाड़ियाँ, फायर ब्रिगेड और पुलिस की  गाड़िया मौजूद थी। इसमें बैठे लोगो ने डॉक्टर उमा को सलाम किया। इस सराहनीय और सम्मानित कार्य का वीडियो सोशल मीडिया में बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है। डॉक्टर सुधाकर जो  कि एक विधायक है उन्हों ने यह वीडियो  सोशल मीडिया में अपलोड किया था। उन्हों ने बताया डॉक्टर उमा मैसूर की रहने वाली है और इन्हो ने अपनी पढ़ाई साल 1990 जेएसएस मेडिकल कॉलेज शिवाराथेश्वर-नगर से पढ़ाई की है।

आप को बता दे अमेरिका दुनिया का सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देश है। जहाँ 45,318 मौतें कोरोना से हुई हैं और यह संख्या दुनिया में सबसे ज्यादा हैं। इसके बाद इटली में 24,648 स्पेन में 21,282 और फ्रांस में 20,796 लोगों की जान ये वायरस ले चुका है। दुनिया में इस वायरस से पीड़ितों की संख्या अब 25 लाख को पार कर गई है। दुनियाभर में अब तक 25,55,760 लोगों में कोरोना संक्रमण पाया जा चुका है और अब तक 1,77,459 लोगों की मौत हो चुकी है।

इस बात को हमें सराहने के साथ -साथ  सीख भी लेनी चाहिए। जो डॉक्टर इतनी हिम्मत से हमरा सुरक्षा कवच बना कर खड़े है उनका सम्मान करे और उनके साथ कॉपरेट करे।  


Connect With US- Facebook | Twitter | Instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *